युगवार्ता

Blog single photo

गोवा में एचआईवी से बचने की नई योजना

18/07/2019

गोवा में एचआईवी से बचने की नई योजना

 युगवार्ता डेस्क
देश में एचआईवी के खतरे को कम करने के लिए लगातार कई कदम उठाए जा रहे हैं। इसी क्रम में गोवा सरकार शादी पंजीकरण से पूर्व एचआईवी टेस्ट अनिवार्य करने का मन बना रही है। 9 जुलाई को गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि गोवा सरकार शादी के पंजीकरण से पहले दंपति के लिए एचआईवी टेस्ट अनिवार्य करने वाली है। सरकार इस पर काम कर रही है।
विधि विभाग द्वारा मंजूरी मिलने पर आगामी मानसून सत्र में विधानसभा में इस कानून को पेश किया जा सकता है। इससे पहले 2006 में तत्कालीन कांग्रेसनीत राज्य सरकार ने भी इसी प्रकार के एक कानून को प्रस्ताव दिया था। तब गोवा में अलग अलग तबके के लोगों ने उसका विरोध किया था। इस तरह के कानून की एक पहल महाराष्ट्र में भी हो चुकी है। यह कानून इसलिए जरूरी है, क्योंकि एचआईवी एक बहुत ही खतरनाक वायरस है, जिससे एड्स जैसी बीमारी हो सकती है। जिसके कारण व्यक्ति का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है।


 
Top